सेड   लव शायरी

पहले इश्क़, फिर दर्द, फिर बेहद नफरत, बड़ी तरकीब से तबाह….. किया तुमने मुझको!!

सेड   लव शायरी

मुझे कुछ अफ़सोस नहीं के मेरे पास सब कुछ होना चाहिए था, मै उस वक़्त भी मुस्कुराता था.. जब मुझे रोना चाहिए था|

सेड   लव शायरी

तूने नफ़रत से जो देखा है तो याद आया, कितने रिश्ते तेरी ख़ातिर यूँ ही तोड़ आया हूँ, कितने धुंधले हैं ये चेहरे जिन्हें अपनाया है, कितनी उजली थी वो आँखें जिन्हें छोड़ आया हूँ

सेड   लव शायरी

तूने नफ़रत से जो देखा है तो याद आया, कितने रिश्ते तेरी ख़ातिर यूँ ही तोड़ आया हूँ, कितने धुंधले हैं ये चेहरे जिन्हें अपनाया है, कितनी उजली थी वो आँखें जिन्हें छोड़ आया हूँ

सेड   लव शायरी

वफ़ा पर हमने घर लुटाना था लेकिन, वफ़ा लौट गयी लुटाने से पहले, चिराग तमन्ना का जला तो दिया था, मगर बुझ गया जगमगाने से पहले।